पाकिस्तान में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सबसे पसंदीदा नेता

लाल मस्जिद कांड और सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के निलंबन प्रकरण के बाद पाकिस्तान में राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ की लोकप्रियता में जबरदस्त गिरावट आई है, जबकि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ देश के सबसे लोकप्रिय नेता के रूप में उभरे हैं। हाल ही में अमेरिका के इंटरनेशनल रिपब्लिकन इंस्टीट्यूट द्वारा कराए गए सर्वेक्षण से नेताओं की लोकप्रियता के बारे में ये नतीजे सामने आए हैं।

इस सर्वेक्षण के मुताबिक, भुट्टो की लोकप्रियता भी घट रही है। गत वर्ष सितंबर में मुशर्रफ की लोकप्रियता ६३ प्रतिशत थी, जो अब घटकर महज २१ प्रतिशत रह गई है।

बेनजीर ने अपील ठुकराई :

इस बीच बेनजीर भुट्टो ने फिलहाल स्वदेश नहीं आने की मुशर्रफ की अपील ठुकराते हुए पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक अगले हफ्ते पाकिस्तान लौटने का फैसला किया है। उधर ‘डेली टाइम्स’ ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि सुरक्षा एजेंसियों ने बेनजीर पर उनकी स्वदेश यात्रा के दौरान आत्मघाती हमले की चेतावनी दी है।

स्विस कोर्टे में जाने की योजना :

एक पाक अखबार के अनुसार पाक बेनजीर, उनके पति आसिफ अली जरदारी तथा पीपीपी के अन्य सदस्यों के बैंक खातों पर लगी रोक हटाने के लिए स्विट्जरलैंड की कोर्ट में अपील दायर करने की योजना बना रहा है। सूत्रों के मुताबिक, भुट्टो और जरदारी के विदेशी खातों में करीब 1.5 अरब डॉलर जमा हैं।

अमेरिका का इनकार :

वॉशिंगटन से मिली खबर के मुताबिक, अमेरिका ने इस बात से साफ इनकार किया है कि वह पाकिस्तान की अंदरूनी राजनीति को परदे के पीछे से संचालित कर रहा है। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता टॉम केसी ने नियमित प्रेस ब्री¨फग में यह जानकारी दी।

सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई :

पाक सुप्रीम कोर्ट ने बेनजीर के खिलाफ भ्रष्टाचार के कई मामलों में लगाए गए घूसखोरी संबंधी आरोप वापस लेने के संबंध में जारी राष्ट्रपति के अध्यादेश को चुनौती देने वाली कई याचिकाओं पर सुनवाई करने का निश्चय किया है।

चीफ जस्टिस इफ्तिखार मोहम्मद चौधरी की अध्यक्षता वाली बेंच ने इन याचिकाओं पर तीन हफ्तों बाद सुनवाई करने का ऐलान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *