Importance of Chemestry in IIT-Jee

आईआईटी-जेईई 2020 के केमिस्ट्री के पेपर में सवालों के बहुत आसान होने की उम्मीद तो नहीं कर सकते हैं लेकिन आपकी समझ सबसे महत्वपूर्ण होगी।

आईआईटी की तैयारी करने वाले हर छात्र के लिए केमिस्ट्री पेपर का एक अलग ही महत्व होता है। इंजीनियरिंग की अधिकांश प्रवेश परीक्षाओं की दृष्टि से यह हमेशा ही एक स्कोरिंग पेपर रहा है। सामान्य मेहनत करके भी इसमें बेहतर अंक पाए जा सकते हैं, यह एक प्रचलित धारणा है। इस बार आईआईटी के पूरी तरह ऑब्जेक्टिव होने से इसका महत्व और भी बढ़ गया है। इस परीक्षा के लिए केमिस्ट्री की तैयारी के विषय में पाई एजुकेशन के एकेडमिक डायरेक्टर संजीव कुमार से बातचीत की गई। संजीव कुमार स्वयं पाई में केमिस्ट्री विषय के फैकल्टी हैं और पिछले कई वर्षो से इस विषय के अध्यापन से जुड़े हुए हैं। प्रस्तुत है इस बातचीत के प्रमुख अंश :

इस बार आईआईटी के केमिस्ट्री पेपर के लिए किन टॉपिक्स पर विशेष ध्यान देना चाहिए?
इस बार आईआईटी का पेपर पूरी तरह ऑब्जेक्टिव होगा, इस लिहाज से इनआर्गेनिक और फिजिकल के कॉमन कांसेप्ट वाले सवाल अधिक महत्वपूर्ण होंगे। इसके अलावा छात्रों को आर्गेनिक केमिस्ट्री के बेसिक कांसेप्ट पर भी ध्यान देना चाहिए। आईआईटी लेवल पर सीधे सवालों की आप अपेक्षा नहीं कर सकते, छात्रों को ऐसे सवालों पर ध्यान देना चाहिए जो घुमाकर पूछे जा सकते हों। इस बार के प्रश्नपत्र में कंप्रिहेंशन की तरह के सवाल भी पूछे जाएंगे। इसका भी विशेष ध्यान रखना चाहिए।

कंप्रिहेंशन से जुड़े सवाल किस प्रकार के होंगे?
अमेरिका में मेडिकल में प्रवेश के लिए एमकैड परीक्षा होती है। उसमें कंप्रिहेंशन टाइप के सवाल पूछे जाते हैं। शायद आईआईटी भी अगले कुछ वर्षो में उसी तरह का स्वरूप अपनाना चाहती है। इस तरह के सवालों में दिए गए तथ्यों के आधार पर सवाल हल करने होते हैं। ऐसे में सीधे फार्मूले पर आधारित सवाल पूछे जाएं, इसकी कम ही संभावना है। घुमाकर सवाल पूछे जाएंगे और इसके लिए स्वयं को तैयार रखें। इसके साथ डिटेक्शन ऑफ एलीमेंट जैसे सवाल भी कंप्रिहेंशन फार्म में पूछे जा सकते हैं।

फिजिकल केमिस्ट्री की तैयारी किस प्रकार करनी चाहिए?
फिजिकल केमिस्ट्री इस पेपर का सबसे महत्वपूर्ण तत्व है। इससे 35 प्रतिशत से ज्यादा सवाल होते हैं। गैस लॉ, आयनिक इक्वीलिब्रियम, आस्मोटिक प्रेशर, एटॉमिक स्ट्रक्चर जैसे टॉपिक काफी महत्वपूर्ण होंगे। इसके लिए ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करें। इस दौरान उनके बेसिक्स पर अपनी पकड़ मजबूत करें।

आर्गेनिक तथा फिजिकल के लिए क्या रणनीति बनाई जाए?
आर्गेनिक में जनरल आर्गेनिक केमिस्ट्री काफी महत्वपूर्ण है। इसमें कुछ बेसिक कांसेप्ट्स हैं जिनका अनुमान आप सिलेबस देख कर आसानी से लगा सकते हैं। इन पर अपनी पकड़ मजबूत करें। इनआर्गेनिक में प्रिपरेशन ऑफ एलीमेंट तथा उनकी प्रॉपर्टीज से जुड़े रिएक्शंस पर विशेष ध्यान देना चाहिए। इसी से एलीमेंट डिटेक्शन से जुड़े सवाल पूछे जाते हैं।

इस बार सवालों का स्तर कैसा होगा?
परीक्षा के स्वरूप में परिवर्तन को लेकर छात्रों को ज्यादा परेशान नहीं होना चाहिए। केमिस्ट्री में सवालों के बहुत आसान होने की उम्मीद तो नहीं कर सकते हैं क्योंकि पिछले वर्ष ही काफी हल्के सवाल पूछे गए थे। इस बार भी सवाल उसी के करीब होंगे। आपकी समझ सबसे महत्वपूर्ण होगी। परीक्षा भवन में कोई सवाल देखकर डरें नहीं, उसे ठीक से पढ़ें और उससे संबंधित कांसेप्ट याद करें। आपको हल खुद ब खुद मिल जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *